पढ़ेगा इंडिया तभी तो बढ़ेगा इंडिया – वर्तमान परिदृश्य में?

शीर्षक पढ़ कर शायद पाठकों को लगे कि विज्ञापन जगत या उससे जुड़े किसी तथ्य के बारे में यह आलेख होगा किन्तु इस आर्टिकल का उद्देश्य इसे पढ़े बिना समझ पाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है । बहुत समय से कुछ लिखने का विचार मन में पाले था पर कहीं लोग उसमें राजनीति ना खोज…… Continue reading पढ़ेगा इंडिया तभी तो बढ़ेगा इंडिया – वर्तमान परिदृश्य में?

Your First Interview : Helpful Insights for Freshers

Based on real life encounters of job seekers and HR People If you are a fresher and searching a job for the first time, points discussed below will help you make a good first impression. Photo by Andrea Piacquadio on Pexels.com Overview: First job is a crucial milestone in everyone’s career. Anxiety to grab the…… Continue reading Your First Interview : Helpful Insights for Freshers

मित्रों

वैसे तो किसी भी रिश्ते के महत्व को समझाने के लिए किसी विशेष दिन की आवश्यकता नही है परंतु पश्चिम के इस अंधानुकरण में हम इस कदर खुद को धकेल चुके हैं कि हर एक रिश्ते के लिए एक दिन को मनाकर अपना कर्तव्य पूरा कर लेते हैं। वैसा ही एक विशेष दिन मित्रता दिवस…… Continue reading मित्रों

हमारी अपेक्षाएँ

मेरे पहले आर्टिकल “मन की बात” पर आप लोगो की प्रतिक्रियाएं काफी प्रेरित करने वाली रही | आशा है में आप लोगो की अपेक्षाओं को अपने आने वाले आर्टिकल्स में भी पूरा कर पाऊंगा | और इन्ही अपेक्षाओं को ध्यान में रखते हुए इस नए आर्टिकल का शीर्षक है “हमारी अपेक्षाएं ” | अपेक्षाएं एक…… Continue reading हमारी अपेक्षाएँ

मन की बात

“उल्टा चश्मा ” इस ब्लॉग का शीर्षक शायद पाठकों को थोडा अटपटा लगे | यह शीर्षक चुनने के पीछे कारण है दुनिया में हो रही घटनाओं को एक अलग नज़रिये से देखकर उसे अपने शब्दों में साझा किया जाए | किसी ब्लॉग को पढ़ना या फेसबुक एवं अन्य ऑनलाइन सोश्यल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर मित्रों द्वारा…… Continue reading मन की बात